घटता विदेशी मुद्रा भंडार बढ़ाएगा महंगाई का बोझ

घटता विदेशी मुद्रा भंडार बढ़ाएगा महंगाई का बोझ

देश का विदेशी मुद्रा भंडार लगातार गिरता जा रहा है और इस गिरावट को रोकने की भारतीय रिजर्व बैंक की तमाम कोशिशें नाकाफी साबित हो रही हैं. छह मई को खत्म हुए हफ्ते में एक बार फिर राष्ट्र के फॉरेक्स रिजर्व में कमी आई है और यह 1.774 अरब $ घटकर 595.954 अरब $ रह गया है. यह लगातार आठवें सप्ताह आई बड़ी गिरावट है

एफसीए में गिरावट बड़ी वजह
आरबीआई की ओर से आंकड़े जारी करते हुए बोला गया है कि विदेशी मुद्रा भंडार में लगातार आ रही कमी दरअसल, विदेशी परिसंपत्ति आस्तियों या एफसीए में गिरावट की वजह से है. बीते हफ्ते एफसीए 1.968 अरब $ घटकर 530.855 अरब $ रह गया. यहां बता दें कि इससे पिछले हफ्ते विदेशी मुद्रा भंडार 600 अरब $ से नीचे 597.728 अरब $ पर आ गया था. इसमें 2.695 अरब $ की बड़ी गिरावट आई थी.

छह महीने में 28.5 अरब $ टूटा
विदेशी मुद्रा भंडार में लगातार आ रही गिरावट के आंकड़ों पर नजर डालें तो विदेशी निवेशकों की जोरदार बिकवाली के चलते भारतीय मुद्रा रुपया दबाव में है. एक रिपोर्ट के अनुसार, बीते छह माह में राष्ट्र के फॉरेक्स रिजर्व में 28.5 अरब $ की कमी दर्ज की गई है. इस बीच हिंदुस्तान के स्वर्ण भंडार में वृद्धि हुई है और छह मई को खत्म हुए हफ्ते में यह 13.5 करोड़ $ बढ़कर 41.739 अरब $ पर पहुंच गया है.   

आरबीआई ने तय किया ये लक्ष्य
भारतीय रिजर्व बैंक इस समय महंगाई को कम करने, रुपये को मजबूत बनाने और विदेशी मुद्रा भंडार को 600 अरब $ के ऊपर बरकरार रखने के तमाम कोशिश कर रही है. लेकिन ये कोशिशें फिलहाल असफल साबित होती दिख रही हैं. फेडरल रिजर्व की ओर से ब्याज दरों में वृद्धि के कारण $ मजबूत है और इस समय 105 के स्तर पर पहुंच चुका है. बता दें कि हाल ही अमेरिकी $ के मुकाबले रुपये ने अपने सर्वकालिक निचले स्तर को छुआ है. 

जनता पर बढ़ सकता है बोझ
विदेशी मुद्रा भंडार के 600 अरब $ के नीचे आने के बाद भारतीय रिजर्व बैंक ने बोला था कि उसका लक्ष्य फॉरेक्स रिजर्व को इस मनोवैज्ञानिक स्तर के ऊपर रखना है. इसके लिए हर संभव कोशिश किए जाएंगे. लेकिन, बीते हफ्ते आई गिरावट के कारण रिजर्व टूटकर और भी नीचे पहुंच गया है. अब इसे थामना भारतीय रिजर्व बैंक के लिए बड़ी चुनौती बनती नजर आ रही है. इस सबसे चलते राष्ट्र में महंगाई और बढ़ने का खतरा भी मंडरा रहा है.   


बेटी ही निकली घर में चोरी की मास्टरमाइंड

बेटी ही निकली घर में चोरी की मास्टरमाइंड

6 दिन पहले नागौर के मेड़ता में शिक्षक के घर से 16 तोला सोने और डेढ़ किलो चांदी के गहने चुराने के मुद्दे का खुलासा हो गया है. चोरी शिक्षक की नाबालिग बेटी व उसके प्रेमी ने ही की थी. इस मुद्दे में पुलिस ने बेटी को दस्तयाब कर लिया है. वहीं उसके प्रेमी विकास को अरैस्ट कर लिया है. विकास के उसके कब्जे से 16 तोला सोने व डेढ़ किलो चांदी के जेवरात व नकदी बरामद कर ली गई है. पूछताछ में जानकारी मिली कि चोरी के लिए नाबालिग बेटी ने ही अपने प्रेमी विकास को उदयपुर से बुलाया था.

दरअसल 14 मई को मेड़ता में रहने वाले पादूकलां के सरकारी विद्यालय में शिक्षक बलदेवराम जयपाल अपने किसी मित्र के मृत्यु पर अन्य परिचितों के साथ सांत्वना देने चावंडिया गए थे. घर में पत्नी और बेटी थी. बेटी और पत्नी शाम को खाना खाने के बाद टहलने के लिए कुछ देर घर से बाहर निकले थे और बेटा मोहल्ले में ही दोस्तों के साथ खेलने निकल गया था. इस दौरान चोर उनके घर में घुसा और उसने कमरे की दराज सहित फर्नीचर में रखे करीब 11 लाख रुपए के सोने-चांदी के जेवरात और 14 हजार 500 रुपए की नकदी चुरा ली. इस मुद्दे में 15 मई को मेड़ता थाने में मामला दर्ज करवाया गया था. जिसका 5 दिन बाद पुलिस ने खुलासा कर दिया है.

पुलिस को परिवार पर ही संदेह था
इस चोरी के बाद प्रारम्भ से ही पुलिस को परिवार पर ही संदेह था. इसके चलते पुलिस ने आस-पड़ोस के CCTV फुटेज खंगालने के साथ साथ कुछ नंबरों की सीडीआर निकलवाई. सीडीआर में साफ़ हो गया कि मामला प्रेम-प्रसंग में चोरी करवाने का है. पता चला कि शिक्षक की बेटी ने ही अपने प्रेमी विकास उर्फ विक्की पुत्र पप्पूराम मेघवाल (19) निवासी बोरुंदा को उदयपुर से बुलवाया. मौका पाकर उसने सभी गहने और नकदी विकास को दे दी और वहां से भगा दिया. वहीं घर के कमरे में सामान बिखेर दिया. ताकि सभी इसे चोरी ही समझें. इसके बाद मां को साथ लेकर घर से बाहर टहलने निकल गई. भाई भी बाहर खेलने चला गया था.

शिक्षक कमरे में गया तो चोरी का पता चला
शिक्षक बलदेवराम ने बताया कि 15 मई की सुबह मोहल्ले में एक चावल बेचने वाला आया था. उससे उन्होंने चावल खरीदे और रुपए लेने के लिए कमरे में गए तो वहां के हालात देखकर दंग रह गए. कमरे में सामान बिखरा पड़ा था. फर्नीचर और दराज में जहां सोने-चांदी के जेवर और नकदी रखी हुई थी उन सब के लॉक खुले हुए थे. तब उसने मेड़ता थाने में मामला दर्ज कराया.

मेड़ता सिटी SHO राजवीर सिंह ने बताया कि मुद्दे का खुलासा होने के बाद शिक्षक की नाबालिग बेटी को पकड़ लिया गया है. वहीं उसके प्रेमी विकास मेघवाल को उदयपुर से अरैस्ट किया गया है. चोरी हुआ माल भी बरामद कर लिया गया है.