मध्य प्रदेश मेंमें भीषण गर्मी के बीच कोरोना की चौथी लहर की आशंका

मध्य प्रदेश मेंमें भीषण गर्मी के बीच कोरोना की चौथी लहर की आशंका

MP Corona Update: मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) में भयंकर गर्मी के बीच कोविड-19 की चौथी लहर की संभावना भी लगातार बढ़ती चली जा रही है मध्य प्रदेश में पिछले 24 घंटे में कोविड-19 के संक्रमण 40 नए मुद्दे सामने आए हैं सबसे अधिक 8 मुद्दे मुरैना में दर्ज किए गए हैं इस दौरान 29 लोगों को कोविड-19 मुक्त भी घोषित किया गया इस दौरान किसी की कोविड-19 के संक्रमण से मृत्यु होने की समाचार नहीं है इस समय पूरे राज्य में कोविड-19 के सक्रिय मामलों की संख्या 230 हो गई है 

सबसे अधिक एक्टिव रोगी भोपाल में
राज्य के स्वास्थ्य विभाग के ऑफिसरों के अनुसार मध्य प्रदेश में कोविड-19 पॉजिटिव रोगियों की संख्या बढ़ने से चिंताएं भी बढ़ गई हैं एमपी में सबसे अधिक एक्टिव रोगी राजधानी भोपाल में हैं जबकि ग्वालियर, गुना, जबलपुर, मुरैना, इंदौर में भी एक्टिव रोगियों की संख्या 20 से अधिक है 

24 घंटे में 40 नए पॉजिटिव मुद्दे दर्ज 
स्वास्थ्य विभाग के ऑफिसरों के मुताबिक पिछले 24 घंटे में 40 नए पॉजिटिव मुद्दे दर्ज किए गए हैं इनमें भोपाल में 6, छतरपुर में 1, दतिया में 3, गुना में 3, होशंगाबाद में 2, इंदौर में 2, जबलपुर में 1, मुरैना में 8, निवाड़ी में 1, रायसेन में 2, राजगढ़ में 1, सागर में 1 और शिवपुरी में 1 नया मामला दर्ज हुआ है पिछले 24 घंटों में 29 कोविड-19 रोगी स्वस्थ होकर डिस्चार्ज हुए हैं, जबकि 40 नए रोगी सामने आए हैं  

सैंपलिंग की संख्या भी बढ़ाई
मध्य प्रदेश में लगातार कोविड-19 रोगी सामने आने की वजह से सैंपलिंग संख्या भी बढ़ा दी गई है पहले 5 से 6 हजार के बीच सैंपलिंग हो रही थी, जिसे बढ़ाकर अब 8 हजार कर दिया गया है 8000 सैंपल में से 20 रिजेक्ट हुए जबकि 7960 की नेगेटिव रिपोर्ट आई है 40 रोगी पॉजिटिव आने की वजह से कुल रिपोर्ट में प्राप्त पॉजिटिव प्रकरणों का फीसदी 0.5 है 


नए प्रदेश अध्यक्ष पर बोले रमन

नए प्रदेश अध्यक्ष पर बोले रमन

छत्तीसगढ़ बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष और संगठन के बाकी पदाधिकारी बदले जाने की चर्चा है. जल्द ही से लेकर छत्तीसगढ़ बीजेपी कोई बड़ा निर्णय कर सकती है. इस मुद्दे पर डॉ रमन सिंह ने अपना बयान दिया है. दरअसल कई नेता अध्यक्ष बनने की ख़्वाहिश जाहिर कर चुके हैं. डॉ रमन सिंह ने बोला कि हर किसी के मन में अध्यक्ष बनने की ख़्वाहिश होती है, कौन नहीं बनना चाहेगा अध्यक्ष, कुछ लोगों ने तो नए कपड़े भी सिलवा लिए हैं.

डॉ रमन सिंह ने यह बयान रायपुर के एयरपोर्ट पर दिया. शनिवार को वह राजस्थान से लौट आए . दरअसल राजस्थान में राष्ट्रीय पदाधिकारियों की दो दिवसीय बैठक थी. छत्तीसगढ़ से इस बैठक में शामिल होने डॉ रमन सिंह, पवन साय, विष्णु देव साय और प्रदेश प्रभारी डी पुरंदेश्वरी पहुंची हुई थीं.

वर्किंग प्रोफेशनल बीजेपी का नया टारगेट
छत्तीसगढ़ के पूर्व सीएम और बीजेपी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ रमन सिंह ने राजस्थान से लौटने के बाद बताया कि अब बीजेपी अपने नए टारगेट के अनुसार काम करेगी . वर्किंग प्रोफेशनल्स को पार्टी से जोड़ा जाएगा. राष्ट्रीय पदाधिकारियों की हुई बैठक में पीएम मोदी और राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने तमाम नेताओं को यह लक्ष्य दिया है. अब पार्टी चिकित्सक वकील, पत्रकार, चार्टर्ड अकाउंटेंट जैसे भिन्न-भिन्न प्रोफेशन से जुड़े ऐसे लोगों को बीजेपी से जोड़ेगी.

डॉ रमन सिंह ने बताया कि बैठक में पीएम मोदी की बातें काफी प्रेरणादायक रहीं. उन्होंने वर्तमान सियासी स्थिति पर बीजेपी की किरदार पर चर्चा की. उन्होंने यह भी बोला कि कांग्रेस पार्टी में परिवारवाद की वजह से वह पार्टी पतन की ओर है . बीजेपी को विकासवाद के रास्ते से भटकना नहीं चाहिए . हम विकासवाद साथ लेकर चलते हैं. आज बीजेपी राष्ट्र में जिस मुकाम पर खड़ी है वह डेवलपमेंट की नीतियों की वजह से ही हुआ है. गांव गरीब किसान के लिए हितकर योजनाएं बनाने की वजह से ही हुआ है. परिवारवाद और अपनी गलत नीतियों की वजह से कभी राष्ट्र के सभी राज्यों में गवर्नमेंट बनाने वाली कांग्रेस पार्टी आज केवल दो राज्यों में सिमट कर रह गई है.