पुलिस द्वारा हो रही कारवाई से माफिया हाजी इकबाल की मुश्किलें बढ़ी

पुलिस द्वारा हो रही कारवाई से माफिया हाजी इकबाल की मुश्किलें बढ़ी

पूर्व बीएसपी एमएलसी हाजी इकबाल के सहयोगी पर बलात्कार पीड़िता को धमकाने और 10 लाख की फिरौती मांगने के आरोप में पुलिस ने 4 लोगों को अरैस्ट कर कारागार भेजा है बता दें कि मिर्जापुर थानाध्यक्ष दिल नारायण सिंह ने अपनी टीम के साथ मिलकर मुखबिर की सूचना पर इन चार अभियुक्तों को अरैस्ट किया

एसपी देहात सूरज कुमार राय ने जानकारी देते हुए बताया कि थाना मिर्जापुर में पॉक्सो एक्ट मे केस दर्ज है मुकदमा दर्ज कराने वाली स्त्री से इन लोगों ने 10 लाख रूपये की फिरौती मांगी थी साथ ही केस वापस लेने के लिए धमकी भी दे रहे थे यह सभी आरोपी खनन माफिया हाजी इकबाल के सम्बन्धी बताए जा रहे हैं उन्होंने बताया कि खनन माफिया हाजी इकबाल का भांजा इस मुद्दे में मुख्य अभियुक्त है जो कि अभी तक फरार चल रहा है पुलिस जल्द ही उसे भी अरैस्ट कर कारागार भेजेगी

हाजी इकबाल के विरूद्ध जारी है NBW

बता दें कि उच्च न्यायालय ने हाल ही में हाजी इकबाल की जमानत याचिका खारिज कर उसके खिलाफ़ गैर जमानती वारंट जारी किया हुआ है उधर हाजी इकबाल और उसके परिजनों के विरूद्ध पुलिस का शिकंजा लगातार कसता जा रहा है अभी कुछ दिन पूर्व ही हाजी इकबाल और उनके भाई पूर्व एमएलसी महमूद के आलीशान मकानों पर बुलडोज़र के अनुसार कार्रवाई हुई थी हाजी के छोटे भाई महमूद सहित उनके तीन बेटों और कई साथियों को पुलिस पहले ही गिरफ्तारी कर चुकी है जिसके बाद हाजी और उसके चौथे बेटे की तलाश जारी है लगातार पुलिस द्वारा हो रही कारवाई से माफिया हाजी इकबाल की मुश्किलें बढ़ती जा रही हैं