प्रयागराज में लव जिहाद का एक सनसनीखेज मामला सामने आया

प्रयागराज में लव जिहाद का एक सनसनीखेज मामला सामने आया

प्रयागराज में लव जिहाद का एक सनसनीखेज मामला सामने आया है. सोशल मीडिया पर एक पुरुष ने स्वयं को हिंदू बताकर नर्सिंग की हिंदू छात्रा से दोस्ती की और फिर उसके साथ बलात्कार किया. छात्रा की तहरीर पर कर्नलगंज पुलिस ने पुरुष सहित 3 अन्य के विरूद्ध गैंग रेप का FIR दर्ज किया है.

बलिया की रहने वाली है नर्सिंग की छात्रा

लव जिहाद का यह पूरा मामला कर्नलगंज थाना क्षेत्र के मम्फोर्डगंज क्षेत्र का है. प्रदेश के बलिया जिले से नर्सिंग का कोर्स करने आई एक महिला की प्रयागराज में सोशल मीडिया क्लब हाउस के माध्यम से सोनू उर्फ अनुज प्रताप सिंह से मुलाकात हुई. फिर क्या था वार्ता का सिलसिला प्रारम्भ हुआ. महिला सोनू को अपना दोस्त मानने लगी. एक बार जब महिला बीमार हुई तो सोनू उर्फ अनुज प्रताप सिंह सहायता मांगी तो सोनू ने सहायता किया. इसके कुछ दिन बाद ही काशी विश्वनाथ दर्शन करने जब लड़की गई तो सोनू भी साथ गया.

शादी का झांसा देकर किया दुष्कर्म

वाराणसी में साेनू ने बताया कि वह अधिवक्ता भी है. तो उसने पुराने मुकदमे की पैरवी को लेकर उससे वार्ता की. धीरे-धीरे दाेस्ती प्रगाढ़ हो गई. अधिवक्ता ने विवाह का झांसा दिया और रामबाग स्थित एक होटल में बलात्कार किया. यह भी आरोप है कि फरवरी 2022 में अधिवक्ता ने उससे बोला कि विवाह के लिए आनलाइन आवदेन करना है और फिर अपने साथ रजिस्ट्रार कार्यालय ले गया. तीन माह का गर्भ होने पर दवा खिलाकर गर्भपात भी करवा दिया. इसी बीच दोनो ने न्यायालय मैरिज कर लिया. पुलिस की जांच में पुरुष ने रजिस्टर में भी अपना नाम सोनू उर्फ अनुज प्रताप सिंह ही लिखा है.

पुलिस ने दर्ज किया गैंग बलात्कार का मुकदमा

कुछ दिनों के बाद महिला को अपने घर ले गया जहां उसको पता चला कि यह हिंदू नहीं बल्कि मुस्लिम है. उसका वास्तविक नाम अनुज उर्फ मोहम्मद आलम पुत्र महमूद है. फिर क्या था लड़की ने विरोध प्रारम्भ किया तो घर वालों ने लड़की को धर्म बदलाव करने की बात कर दी. सोनू अनुज प्रताप सिंह लड़की से बोला कि तुम धर्म बदलाव कर लो घर वाले तुम्हें स्वीकार कर लेंगे, लेकिन लड़की ने धर्म बदलाव नहीं किया. घर वालों ने उसे कैद कर मारना पीटना प्रारम्भ कर दिया. जहां उसके आलम के भाई मो असलम और नूर आलम ने भी बलात्कार किया. घर में कोई न होने पर वह बाहर निकली और थाने पहुंचकर कम्पलेन दी. वहीं कर्नलगंज इंस्पेक्टर राममोहन राय ने बताया कि पीड़ित छात्रा ने दो साल पूर्व सिविल लाइंस थाने में दीपक पाल के विरूद्ध बलात्कार का केस दर्ज कराया था. उसमें दीपक पाल कारागार में बंद है. तहरीर के आधार पर गैंग रेप केस दर्ज कर विवेचना की जा रही है. साथ ही पुलिस ने बताया कि अभी तक जांच में शादी रजिस्टर में अधिवक्ता ने अपना नाम साेनू ही दर्ज किया है.