घर में अकेली देख मूक-बधिर किशोरी से दुष्कर्म की कोशिश

घर में अकेली देख मूक-बधिर किशोरी से दुष्कर्म की कोशिश

 जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के एक गांव में शुक्रवार को मूक-बधिर किशोरी के साथ बलात्कार की प्रयास की गई इस मुद्दे में पुलिस ने आरोपी रविदास को अरैस्ट कर लिया है बताया जा रहा है कि पीड़िता घर में अकेली थी परिवार के सदस्य मेला देखने गए थे एक भाई छत पर सोया हुआ था इसी बीच किशोरी को घर में अकेला देख आरोपित घर में घुस गया और जबरदस्ती करने लगा इसी दौरान भाई वहां पहुंच गया यह देख आरोपित भाग निकला

इसके बाद परिजनों ने इसकी सूचना पुलिस को दी सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी को अरैस्ट कर लिया थाना प्रभारी मुकेश कुमार ने बताया ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज की जा रही है पीड़िता का सदर हॉस्पिटल में मेडिकल कराया जा रहा है थाना प्रभारी ने बताया कि जैसे ही मामला की जानकारी मिली, तुरंत दलबल के साथ गांव पहुंचे और आरोपित को अरैस्ट कर लिया गया

प्रवचन सुनने गए परिवार के लोग

बताया जाता है कि सभी परिवार के लोग नया गांव में प्रवचन सुनने गए थे इसी दौरान बगल के ही एक पुरुष ने घर में घुसकर किशोरी के साथ बलात्कार करने की प्रयास की परिवार के लोगों ने बोला कि बच्ची मुंह से कुछ बोल नहीं सकती है इसी का लाभ उठाकर किशोरी को घर अकेला देख पुरुष ने बलात्कार करने की प्रयास की


दो दिन बाद CM योगी और अखिलेश से होगा सामना

दो दिन बाद CM योगी और अखिलेश से होगा सामना

लखनऊ सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान (Azam Khan) शुक्रवार को 27 महीने बाद सीतापुर कारागार से रिहा हो गए रामपुर से समाजवादी पार्टी विधायक आजम खान कारागार से ऐसे समय बाहर आए हैं जब सूबे में विधानसभा सत्र प्रारम्भ होने वाला है 23 मई से यूपी विधानसभा का बजट सत्र प्रारम्भ होकर 31 मई तक चलेगा योगी गवर्नमेंट अपने दूसरे कार्यकाल का पहला बजट 26 मई को पेश करेगी विधायक होने के नाते आजम खान बजट सत्र में हिस्सा लेने के लिए सूबे की विधानसभा सदन पहुंचते हैं तो मुख्यमंत्री योगी से उनका आमना-सामना जरूर होगा हालांकि, आजम खान को उससे पहले विधानसभा अध्यक्ष से मिलकर विधायक पद की शपथ लेनी होगी, क्योंकि न्यायालय ने मार्च में सीतापुर कारागार में रहते हुए आजम खान को विधानसभा में शपथ लेने की अनुमति नहीं थी उच्चतम न्यायालय से जमानत मिलने के बाद आजम खान कारागार से बाहर आए हैं तो निश्चित तौर पर विधायक पद की शपथ और बजट सत्र में हिस्सा लेने के लिए पहुंच सकते हैं

सीतापुर कारागार की प्रसपा के मुखिया शिवपाल यादव ने किया समाजवादी पार्टी चीफ अखिलेश यादव ने भी ट्वीट कर आजम की रिहाई का स्वागत किया, लेकिन सीतापुर कारागार से बाहर आजम खान के कंधे पर शिवपाल हाथ रखे नजर आए जबकि समाजवादी पार्टी के बड़े नेता नदारद थे ऐसे में सभी की निगाहें लखनऊ में समाजवादी पार्टी की शनिवार को होने वाले विधानमंडल की बैठक पर है, जिसमें अखिलेश यादव ने अपनी पार्टी के सभी विधायक और एमएलसी को बुलाया है इस बैठक में अखिलेश बजट सत्र के दौरान योगी गवर्नमेंट को सदन में घेरने की रणनीति बनाएंगे

अखिलेश यादव ने इस बैठक में अपने सभी विधायकों और एमएलसी सदस्यों को हर हाल में मौजूद रहने का आदेश दिया है ऐसे में आजम खान और उनके बेटे अब्दुल्ला आजम आज समाजवादी पार्टी के विधानमंडल सदस्यों की बैठक में शामिल होते हैं कि नहीं इसके बाद ही आजम खान के आगे की राजनीति पर तस्वीर साफ हो पाएगी इससे पहले आजम खान ने बड़ा बयान देते हुए बोला कि मेरी तबाहियों में मेरा अपना हाथ है मेरे अपनो लोगों का बड़ा सहयोग है मालिक उन्हें सदबुद्धि दे